Lal Jode Main Kaisi Sharmai Re /Tulsi Mata Bhajan

लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे।
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

जब तुलसा की पीली चिट्ठी लिखाई,
जब तुलसा की पीली चिट्ठी लिखाई,
हां जब तुलसा की पीली चिट्ठी लिखाई,
जब तुलसा की पीली चिट्ठी लिखाई,
जब तुलसा की पीली चिट्ठी लिखाई,
तो ब्रह्मा जी ने बांच सुनाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
अरे ब्रह्मा जी ने बांच सुनाई,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

जब तुलसा की लगन लिखाई,
जब तुलसा की लगन लिखाई,
हां जब तुलसा की लगन लिखाई,
जब तुलसा की लगन लिखाई,
तो नारद ने बांच सुनाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
अरे नारद ने बांच सुनाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

जब तुलसा को हल्दी लगाई,
जब तुलसा को हल्दी लगाई,
हां जब तुलसा को हल्दी लगाई,
जब तुलसा को हल्दी लगाई,
लक्ष्मी मईया ने हल्दी चढ़ाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लक्ष्मी मईया ने हल्दी चढ़ाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

जब तुलसा के मेंहदी लगाई,
जब तुलसा के मेंहदी लगाई,
हां जब तुलसा के मेंहदी लगाई,
जब तुलसा के मेंहदी लगाई,
गौरा मइया ने हाथों से लगाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
गौरा मइया ने हाथों से लगाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

जब तुलसा ने माला डाली,
जब तुलसा ने माला डाली,
हां जब तुलसा ने माला डाली,
जब तुलसा ने माला डाली,
सरस्वती मइया ने गाई बधाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
सरस्वती मइया ने गाई बधाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

जब तुलसा फेरे पड़ गए,
जब तुलसा के फेरे पड़ गए,
हां जब तुलसा के फेरे पड़ गए,
जब तुलसा के फेरे पड़ गए,
अग्निदेव ने साक्षी कराई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
अग्निदेव ने साक्षी कराई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

जब तुलसा की होवे विदाई,
जब तुलसा की होवे विदाई,
हां जब तुलसा की होवे विदाई,
जब तुलसा की होवे विदाई,
विश्वकर्मा ने डोली सजाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
विश्वकर्मा ने डोली सजाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे,
लाल जोड़े में कैसी शरमाई रे,
मेरी तुलसा दुल्हन बन आई रे।।

















Post a Comment

Previous Post Next Post