Karo Karo re sakhi snan kartik mahine mein.

करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
सब तीरथ में तीरथ बड़े ये,
सब तीरथ में तीरथ बड़े ये,
चलो चलो रे तीरथ प्रयाग कार्तिक महीने में,
चलो चलो रे तीरथ प्रयाग कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।।

काहे का सखी तूने दिवला बनाया,
काहे का सखी तूने दिवला बनाया,
काहे की बनाई बाती कार्तिक महीने में,
काहे की बनाई बाती कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।।

माटी का मैंने दिवला बनाया,
माटी का मैंने दिवला बनाया,
रूई की बनाई बाती कार्तिक महीने में,
रूई की बनाई बाती कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।।

कौन सुहागन कौन सपूती,
कौन सुहागन कौन सपूती,
कौन जगावे रात कार्तिक महीने में,
कौन जगावे रात कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।।

मैं हूं सुहागन मैं हूं सपूती,
मैं हूं सुहागन मैं हूं सपूती,
मैं ही जगाऊं रात कार्तिक महीने में,
मैं ही जगाऊं रात कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।।

कौन प्रभु की आरती गावे,
कौन प्रभु की आरती गावे,
किस का लगावें भोग कार्तिक महीने में,
किस का लगावें भोग कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।।

श्रीराम जी की आरती गावे,
श्रीराम जी की आरती गावे,
भक्त लगावें छप्पन भोग कार्तिक महीने में,
भक्त लगावें छप्पन भोग कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में,
करो करो रे सखी स्नान कार्तिक महीने में।।



Post a Comment

Previous Post Next Post