Tera jhootha moh jagat mein/Satsangi Bhajan

तेरा झूठा मोह जगत में तोते से बोली मैना।
तेरा झूठा मोह जगत में,
तोते से बोली मैना,
गैरों से क्या मतलब है,
अपनों से बचकर रहना,
तेरा झूठा मोह जगत में,
तोते से बोली मैना,
गैरों से क्या मतलब है,
अपनों से बचकर रहना,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम।।

श्री राम हुए बनवासी अपनों से धोखा खाया,
वो मौसी भी अपनी थी जिसने बनवास दिलाया,
श्री राम हुए बनवासी अपनों से धोखा खाया,
वो मौसी भी अपनी थी जिसने बनवास दिलाया,
सब आनी जानी माया, सुख है तो दुख भी सहना,
गैरों से क्या मतलब है अपनों से बचकर रहना,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
तेरा झूठा मोह जगत में,
तोते से बोली मैना,
गैरों से क्या मतलब है,
अपनों से बचकर रहना।।

श्री कृष्ण हुए अवतारी जाने जन्म जेल में पाया,
मामा ही दुश्मन बन गया था अपना नहीं पराया,
श्री कृष्ण हुए अवतारी जाने जन्म जेल में पाया,
मामा ही दुश्मन बन गया था अपना नहीं पराया,
बहना को जेल भिजवाया ना माना किसी का कहना,
गैरों से क्या मतलब है अपनों से बचकर रहना,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
तेरा झूठा मोह जगत में,
तोते से बोली मैना,
गैरों से क्या मतलब है,
अपनों से बचकर रहना।।

रावण विद्धवान हुआ था अपनों से धोखा खाया,
वो भाई भी अपना था जाने सारा भेद बताया,
रावण विद्धवान हुआ था अपनों से धोखा खाया,
वो भाई भी अपना था जाने सारा भेद बताया,
प्रहलाद ने धोखा खाया पड़ गया अग्नि में दहना,
गैरों से क्या मतलब है अपनों से बचकर रहना,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
तेरा झूठा मोह जगत में,
तोते से बोली मैना,
गैरों से क्या मतलब है,
अपनों से बचकर रहना।।

जो अपनों से दगा करेगा वो सात जन्म भोगेगा,
तू किस पे करे भरोसा चल उड़ जा हंस अकेला,
जो अपनों से दगा करेगा वो सात जन्म भोगेगा,
तू किस पे करे भरोसा चल उड़ जा हंस अकेला,
दुनिया का झूठा मेला कहता है ये अलबेला,
गैरों से क्या मतलब है अपनों से बचकर रहना,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
राम, सिया राम, सिया राम, सिया राम,
तेरा झूठा मोह जगत में,
तोते से बोली मैना,
गैरों से क्या मतलब है,
अपनों से बचकर रहना।।














Post a Comment

Previous Post Next Post